इस वर्ष नहीं लगेगा नवान्ह मेला

देवघर, 01 दिसम्बर । इस वर्ष बुढ़ई नवान मेले का आयोजन नहीं होगा। यह जानकारी मंगलवार को अनुमंडल कार्यालय में अनुमंडल पदाधिकारी योगेंद्र प्रसाद की अध्यक्षता में आयोजित प्रेस वार्ता दी गई। प्रसाद ने कहा कि सरकार के निर्देशानुसार एवं जिला प्रशासन के द्वारा यह तय किया गया है कि इस वर्ष बढ़ेश्वरी मंदिर में हर वर्ष लगने वाले बूढ़ई नवान मेले का आयोजन नहीं होगा। ना ही कोई बलि दी जाएगी और ना ही किसी भी प्रकार की मेले की इजाजत होगी। उन्होंने यह भी बताया कि पिछले अनुभवों से हमें ज्ञात है कि नवान मेले में भारी संख्या में लोग बुढ़ेश्वरी मंदिर में पूजा करने एवं मेला घूमने के लिए आते हैं।इस वर्ष कोविड-19 के खतरे को देखते हुए किसी भी सूरत में मेले की इजाजत नहीं दी जा सकती। इस कारण मेले के आयोजकों को यह सूचना दे दिया गया है की वहां किसी भी प्रकार के अस्थाई दुकान या मेले में आने वाले मनोरंजन के वस्तुओं को लगाने की इजाजत नहीं होगी। सिर्फ परंपराओं के अनुसार श्रद्धालुओं को पूजा करने की अनुमति दी गई है। वह भी कोविड-19 के मानकों का पालन करते हुए। अर्थात सभी श्रद्धालु मास्क लगाकर जाएंगे वहां पुजारी जो भी रहेंगे उन्हें भी मास्क लगाना एवं 2 गज की दूरी का पालन करना अनिवार्य होगा। ज्ञात हो कि बुढई मेले में तकरीबन 30 से 40 हज़ार की भीड़ जुटती है ऐसे में कोरोना संक्रमण के प्रसार की संभावना अत्यधिक है।