ओरमांझी हत्याकांड की जिरह सुलझी, युवती का कटा सिर खेत से हुआ बरामद

रांची : ओरमांझी हत्याकांड में युवती का सिर बारमद कर लिया गया है। पुलिस ने चंदवे गांव में आरोपी शेख बिलाल के घर के पास ही स्थित खेत से लाश बरामद कर ली है। इसके साथ ही पूरे मामले का खुलासा हो चुका है। जिस युवती की हत्या की गयी है, वह चान्हो थाना क्षेत्र के चटवल गांव की रहनेवाली सूफिया प्रवीण थी और उउसके पति शेख बिलाल ने ही उसकी हत्या की थी। पुलिस ने सोमवार को आरोपी शेख बिलाल की तस्वीर भी जारी की है। रांची के ग्रामीण एसपी नौशाद आलम ने कहा कि बिलाल का सुराग देनेवालों को उचित पुरस्कार दिया जायेगा।

मालूम हो कि रांची पुलिस ने बीते 3 जनवरी को साईनाथ यूनिवर्सिटी के पीछे जंगली झाड़ियों के बीच युवती की सिरकटी लाश बरामद की थी। शव नग्न अवस्था में थी। चान्हो थाना क्षेत्र के चटवल गांव के एक दंपती ने मृतका का अपनी बेटी होने का दावा किया था। पहचान के तौर पर दंपति ने पुलिस को बताया था कि उनकी बेटी सुफिया का बचपन में खाना बनाने के दौरान पैर जल गया था जिसके निशान अब भी हैं। रिम्स में जो शव उन्हें दिखाया गया है, उसके भी एक पैर में जले का निशान है। ऐसे में पुलिस ने छानबीन आगे बढ़ाई और मामले की तह तक पहुंची

जानकारी के अनुसार सूफिया परवीन लगभग 10 माहीने पहले से शेख बिलाल को जानती थी। दोनों पति-पत्नी के रूप में रह रहे थे लेकिन बाद में वह बिलाल को छोड़कर एक दूसरे युवक के साथ रहने लगी। बिलाल पहले भी हत्या के एक मामले में जेल में सजा काट चुका है।