इंग्लैंड की ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी में पढ़ने जाएंगे छह आदीवासी छात्र, झारखंड सरकार उठाएगी खर्च

झारखंड सरकार द्वारा शुरू की गई मरांग गोमके जयपाल सिंह मुंडा पारदेशीय छात्रवृत्ति योजना के तहत छह आदिवासी छात्रों का चयन किया गया है। अब ये छात्र इंग्लैंड की जानी-मानी ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी में पढ़ने जाएंगे और इसका पूरा खर्चा झारखंड की हेमंत सोरेन सरकार वहन करेगी।


झारखंड में सत्ताधारी दल जेएमएम के महासचिव सुप्रियो भट्टाचार्य ने बताया कि मरांग गोमके जयपाल सिंह मुंडा झारखंड से ऑक्सफॉर्ड पहुंचने वाले पहले छात्र थे। उनका शताब्दी वर्ष मनाया जा रहा है। यह देश के लिए बड़ी बात है। मरांग गोमके जयपाल सिंह मुंडा पारदेशीय छात्रवृत्ति योजना के तहत झारखंड सरकार राज्य से अनुसूचित जाति के छात्र-छात्राओं को ऑक्सफोर्ड और कैंब्रिज जैसे प्रतिष्ठित विदेशी यूनिवर्सिटी में उच्च शिक्षा प्राप्त करने का मौका दे रही है। वहीं ऐसी योजना चलाने वाला झारखंड पहला राज्य भी है। इसके तहत एससी-एसटी वर्ग के 10 छात्र-छात्राओं का चयन किया जाएगा।

इस योजना में सिर्फ झारखंड के निवासी ही आवेदन कर सकते हैं। साथ ही जयपाल सिंह मुंडा पारदेशीय छात्रवृत्ति योजना का लाभ लेने के लिए आवेदक के पास अनुसूचित जनजाति का जाति प्रमाण पत्र होना आवश्यक है। जो आवेदन कर रहा है उसकी उम्र 40 से ऊपर नहीं होनी चाहिए और ग्रेजुएशन में कम से कम 55 फीसदी अंक होना अनिवार्य है।