सामूहिक दुष्कर्म मामले का पुलिस ने किया खुलासा, पांच गिरफ्तार


जमशेदपुर: गोविदपुर थाना क्षेत्र स्थित घोड़ाबाँधा थीम पार्क में  एक 17 वर्षीय लड़की के साथ सामुहिक दुष्कर्म के मामले का पुलिस ने उदभेदन कर दिया है। इस मामले में पुलिस ने चार लड़को को गिरफ्तार किया है। सभी आरोपियों ने अपना जुर्म कबुल कर लिया है।

इस संबंध में सी टी एस पी सुभाष चंद्र जाट ने बताया कि 12 अगस्त को बिरसा नगर थाना में एक लड़की की गुमशुदगी का मामला दर्ज किया गया था। इसमें आरोपी गोविंदपुर थाना क्षेत्र के सरेगबेरा बस्ती के रहने वाले चंदन लोहरा को बनाया गया था। मामले को लेकर पुलिस अनुसंधान कर रही थी। इसके लिए यातायात डीएसपी के नेतृत्व में एक टीम का गठन किया गया  टीम ने प्रोफेशनल ढंग से कार्रवाई करते हुए 12 घंटे के अंदर पूरे मामले का उद्भेदन कर दिया। 

टीम ने सबसे पहले नामजद अभियुक्त चंदन लोहरा को गिरफ्तार किया। पीड़िता के बयान के आधार पर अनुसंधान करते हुए छापामारी कर अन्य 4 अप्राथमिक अभियुक्तो को गिरफ्तार किया। प्राथमिक एवं अप्राथमिक अभियुक्तों द्वारा अपना- अपना अपराध स्वीकार कर लिया। उनके पास से घटना के समय प्रयुक्त पांच मोबाइल एवं उनके पहने वस्त्र जब्त किए गए। 

घटना के संबंध में प्राथमिक अभियुक्त चंदन लोहारा ने बताया कि वह ग्यारह अगस्त को समय करीब दोपहर 2:30 बजे पीड़िता को उसके बिरसानगर जोन नंबर 2ए 1 स्थित घर के पास से लेकर गोविंदपुर  स्थित थीम पार्क के पीछे शमशान के पास ले गया था। इसी बीच अप्राथमिक अभियुक्त गणेश बारी उर्फ डमरु, सुनील बारी उर्फ गोविंद बारी जसवा सवैया उर्फ मोटू एवं अकाश घल उर्फ काच्छिम वहां आया और चन्दन को मारपीट कर भगा दिया।

पीड़िता की बरामदगी के उपरांत उसके द्वारा दिए गए बयान के अनुसार चंदन के भाग जाने के उपरांत गोविंदा बारी एवं जसुआ सवैया के द्वारा पीड़िता के साथ बारी-बारी से दुष्कर्म किया गया और इस क्रम में आकाश घल काच्छिम के द्वारा निगरानी किया जा रहा था। रात्रि होने पर गोविंदा बारी इसे अकेले जंगल की ओर ले कर भाग गया एवं रात भर जंगल में भटकता रहा। इस क्रम में गोविंदा के द्वारा पुनः पीड़िता के साथ दुष्कर्म किया गया। सुबह गोविंदा उसे लेकर खैरबानी रेलवे फाटक के पास एक टूटी फूटी विरान झोपड़ी में ले गया। दोपहर में नहाने के बहाने पीड़िता एक गड्ढे के पास गई। जहां उपस्थित एक महीला से मोबाइल लेकर अपनी मां को सूचित किया। उसके बाद बिरसानगर और गोविंदपुर पुलिस घटनास्थल आकर अपह्रत को बरामद किया।