रूपा तिर्की की मौत का मामला, हाईकोर्ट ने दिया सीबीआई जांच का आदेश

रांची के साहिबगंज की थाना प्रभारी रूपा तिर्की की मौत की सीबीआई जांच होगी। झारखंड हाईकोर्ट ने बुधवार को सीबीआई जांच का आदेश दिया। जस्टिस एसके द्विवेदी की अदालत ने सीबीआई को अविलंब केस लेकर जांच करने का निर्देश दिया है। रूपा तिर्की के पिता देवानंद उरांव ने हाईकोर्ट में याचिका दायर कर रूपा तिर्की की हत्या की आशंका जताते हुए सीबीआई जांच कराने का आग्रह किया था। मंगलवार को अदालत ने इस मामले की सुनवाई पूरी करने के बाद फैसला सुरक्षित रखा था। बुधवार को अदालत ने सीबीआई जांच के आदेश दिए। रूपा तिर्की की मौत तीन मई को हुई थी। उनकी लाश सरकारी क्वार्टर में फंदे में झूलता मिला था।

जस्टिस एसके द्विवेदी ने अपने आदेश में कहा है कि इस मामले में प्रथम द्रष्टया कई मामले संदेहास्पद पाए गए हैं। रूपा तिर्की की मौत के बाद उनका बिसरा भी सुरक्षित नहीं रखा गया है। प्रार्थी ने उनके शरीर पर पांच स्थानों पर जख्म होने की बात कही है। इस संबंध में प्रार्थी की ओर से दस्तावेज भी पेश किए गए हैं। रूपा के परिजनों पर राजनीतिक दबाव भी बनाया गया है। इस मामले में सत्ता के कई करीबी लोगों के नाम भी सामने आए हैं। इसके पक्ष में फॉन कॉल के डिटेल भी मिले हैं। रूपा के परिजनों को प्रलोभन भी दिया गया। पेट्रोल पंप तक देने की बात कही गई है। अदालत में इस मामले में पेश किए गए दस्तावेजों को देखने के बाद भी कई गड़बड़ी सामने आ रही है। ऐसे में यह मामला सीबीआई जांच के लिए फिट है और यह रेयर ऑफ रेयरेस्ट मामला है। इस कारण निष्पक्ष जांच के लिए सीबीआई जांच का आदेश दिया जाता है। सीबीआई को इस मामले की जांच अविलंब शुरू करनी चाहिए।